Connect with us

Bluandshahr

Bulandshahr: Now Mini Taj Mahal Will Attract Tourists – बुलंदशहर : अब पर्यटकों को लुभाएगा मिनी ताजमहल, देखने के लिए पहुंचने लगे विदेशी

Published

on


अमर उजाला नेटवर्क, बुलंदशहर
Published by: दुष्यंत शर्मा
Updated Thu, 25 Nov 2021 06:13 AM IST

सार

सीडीओ इसके लिए प्रस्ताव तैयार कराएंगे। इसके लिए डीपीआरओ को निर्देश दिए गए हैं।
 

ख़बर सुनें

डिबाई क्षेत्र के गांव पला कसेर में बना मिनी ताजमहल पर्यटन स्थल के रूप में विकसित किया जाएगा। सीडीओ इसके लिए प्रस्ताव तैयार कराएंगे। इसके लिए डीपीआरओ को निर्देश दिए गए हैं।

गांव पला कसेर निवासी फैजुल हसन कादरी ने वर्ष 2012 में मिनी ताजमहल का निर्माण अपनी पत्नी तजमुल्ली की याद में शुरू करवाया था। इसका निर्माण शुरू होते ही इसकी चर्चा देश-विदेश में होने लगी थी। इसे देखने के लिए विदेशी भी पहुंचने लगे थे। 

इसके निर्माण के साथ ही कादरी ने मिनी ताजमहल के पास ही राजकीय बालिका इंटर कॉलेज बनाने के लिए अपनी जमीन दान दी थी। इस जमीन पर सपा सरकार ने कॉलेज बनवाने को स्वीकृति दी थी, जो अब बनकर तैयार है और उसके संचालन की तैयारी चल रही है।

विस्तार

डिबाई क्षेत्र के गांव पला कसेर में बना मिनी ताजमहल पर्यटन स्थल के रूप में विकसित किया जाएगा। सीडीओ इसके लिए प्रस्ताव तैयार कराएंगे। इसके लिए डीपीआरओ को निर्देश दिए गए हैं।

गांव पला कसेर निवासी फैजुल हसन कादरी ने वर्ष 2012 में मिनी ताजमहल का निर्माण अपनी पत्नी तजमुल्ली की याद में शुरू करवाया था। इसका निर्माण शुरू होते ही इसकी चर्चा देश-विदेश में होने लगी थी। इसे देखने के लिए विदेशी भी पहुंचने लगे थे। 

इसके निर्माण के साथ ही कादरी ने मिनी ताजमहल के पास ही राजकीय बालिका इंटर कॉलेज बनाने के लिए अपनी जमीन दान दी थी। इस जमीन पर सपा सरकार ने कॉलेज बनवाने को स्वीकृति दी थी, जो अब बनकर तैयार है और उसके संचालन की तैयारी चल रही है।



Source link

Continue Reading
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Bluandshahr

Weather Update: Imd Said- Light Rain May Occur In Delhi, Aligarh Farukhnagar – Delhi Weather: दिल्ली-यूपी और पंजाब सहित कई राज्यों में बारिश की संभावना, हिमाचल में हुई बर्फबारी

Published

on

By


एएनआई, नई दिल्ली
Published by: अनुराग सक्सेना
Updated Thu, 02 Dec 2021 12:58 PM IST

सार

भारतीय मौसम विज्ञान विभाग ने कहा है कि गुरुवार को पंजाब, हरियाणा, चंडीगढ़, दिल्ली, उत्तर प्रदेश, राजस्थान और मध्य प्रदेश में बारिश होने की संभावना है।

दिल्ली एनसीआर में छाए बादल
– फोटो : पीटीआई

ख़बर सुनें

देश के कई राज्यों में बारिश होने की संभावना है। दिल्ली, उत्तर प्रदेश, राजस्थान, पंजाब, हरियाणा, राजस्थान और मध्य प्रदेश में बारिश हो सकती है। हिमाचल प्रदेश में ताजा बर्फबारी होने से ठंड बढ़ गई है। जम्मू-कश्मीर और उत्तराखंड में भी बर्फबारी होने की संभावना है। यह जानकारी मौसम विज्ञान विभाग (आईएमडी) ने दी है। राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली और एनसीआर के अन्य क्षेत्रों में बुधवार से बादल छाए हुए हैं। 

कश्मीर घाटी के अधिकांश इलाकों में पारा माइनस में चल रहा है। प्रदेश के इलाकों में इस सर्दी का पहला हिमपात इस महीने की चार तारीख की शाम से छह तारीख तक होने की संभावना है। कश्मीर के मैदानी इलाकों में हल्की बर्फबारी होने की संभावना है। जबकि ऊंचे इलाकों में भारी बर्फबारी हो सकती है।

भारतीय मौसम विज्ञान विभाग ने बताया कि दो दिसंबर को पंजाब, हरियाणा, चंडीगढ़, दिल्ली, उत्तर प्रदेश, राजस्थान और मध्य प्रदेश में बारिश होने की संभावना है।

विस्तार

देश के कई राज्यों में बारिश होने की संभावना है। दिल्ली, उत्तर प्रदेश, राजस्थान, पंजाब, हरियाणा, राजस्थान और मध्य प्रदेश में बारिश हो सकती है। हिमाचल प्रदेश में ताजा बर्फबारी होने से ठंड बढ़ गई है। जम्मू-कश्मीर और उत्तराखंड में भी बर्फबारी होने की संभावना है। यह जानकारी मौसम विज्ञान विभाग (आईएमडी) ने दी है। राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली और एनसीआर के अन्य क्षेत्रों में बुधवार से बादल छाए हुए हैं। 

कश्मीर घाटी के अधिकांश इलाकों में पारा माइनस में चल रहा है। प्रदेश के इलाकों में इस सर्दी का पहला हिमपात इस महीने की चार तारीख की शाम से छह तारीख तक होने की संभावना है। कश्मीर के मैदानी इलाकों में हल्की बर्फबारी होने की संभावना है। जबकि ऊंचे इलाकों में भारी बर्फबारी हो सकती है।



Source link

Continue Reading

Bluandshahr

Up Assembly Election 2022 Tomorrow Satta Ka Sangram In Bulandshahr Chai Par Chunavi Charcha Youth Ki Baat Aadhi Aabadi Ki Baat Live Debate Discussion With Amar Ujala – Up Election 2022 : आज बुलंदशहर में सत्ता का संग्राम, जनता के मुद्दों पर होगी बात, नेताओं से पूछे जाएंगे सवाल

Published

on

By


बुलंदशहर का इतिहास 1200 ईसा पूर्व से भी पहले का बताया जाता है। इतिहास पर नजर डालें तो बुलंदशहर पांडवों के लिए महत्वपूर्ण स्थान था। यहां राजा पर्मा ने एक किला और अहिबरन नाम के राजा ने बरन (बुलंदशहर) नाम के एक टावर की नींव रखी। 

ऐतिहासिक और धार्मिक रूप से समृद्ध बुलंदशहर का राजनीति में भी काफी दखल है। यहां सात विधानसभा क्षेत्र हैं। मौजूदा समय सभी सीटों पर भारतीय जनता पार्टी का कब्जा है। अब अगले साल फिर से विधानसभा चुनाव होने हैं। ऐसे में इस बार इन विधानसभा क्षेत्रों में क्या होगा? योगी सरकार के इन साढ़े चार साल के कार्यकाल में यहां कितना विकास हुआ? क्या आम लोग सरकार के कामकाज से खुश हैं? युवा, महिलाएं और यहां की आम जनता मौजूदा सरकार के बारे में क्या सोचती है? राजनीतिक दलों के नेताओं का क्या मानना है? वह किन मुद्दों को लेकर जनता के बीच जाएंगे? ऐसे तमाम सवालों का जवाब जानने के लिए ‘अमर उजाला’ का चुनावी रथ ‘सत्ता का संग्राम’ बुधवार को बुलंदशहर में होगा। 

आप भी ‘अमर उजाला’ के इस मंच से जुड़ सकते हैं। इसके जरिए आप अपने क्षेत्र, शहर, राज्य और देश के हर मुद्दों को उठा पाएंगे। आप बता पाएंगे कि आने वाले चुनाव में नेताओं और राजनीतिक दलों से आपको क्या उम्मीदें हैं? किन मसलों को लेकर आप वोट करेंगे और नेताओं से आप क्या चाहते हैं?

कब और कहां होंगे कार्यक्रम ?

1. सुबह 8 बजे
चाय पर चर्चा
स्थान: राजे बाबू रोड

2. दोपहर 12 बजे
आधी आबादी से चर्चा
स्थान: चांदपुर फाटक

3. शाम 4 बजे 
राजनीतिक दलों से चर्चा
स्थान : सेंट मोमिना स्कूल

अब तक इन जिलों में हुआ कार्यक्रम
अब तक पश्चिमी उत्तर प्रदेश और ब्रज के कई जिलों में ‘अमर उजाला’ का यह कार्यक्रम हो चुका है। गाजियाबाद से शुरू हुआ ‘सत्ता का संग्राम’ मुरादाबाद, रामपुर, अमरोहा, बरेली, बदायूं, पीलीभीत, शाहजहांपुर, लखीमपुर खीरी, सीतापुर, हरदोई, फर्रुखाबाद, कन्नौज, इटावा, मैनपुरी, एटा, फिरोजाबाद, आगरा, मथुरा, हाथरस होते हुए अलीगढ़ पहुंच चुका है। अब अगला पड़ाव बुलंदशहर होगा। 

‘सत्ता का संग्राम’ में क्या होगा खास?
चुनावी रथ ‘सत्ता का संग्राम’ के तहत अमर उजाला हर वर्ग के मतदाताओं तक पहुंचेगा। चाय पर चर्चा के साथ-साथ महिलाओं-युवाओं से संवाद होगा और राजनीतिक हस्तियों से सीधे सवाल पूछे जाएंगे। अमर उजाला आपको एक मंच दे रहा है, जहां आप बातों को रख सकेंगे, ताकि जब राजनीतिक हस्तियां चुनावी रैलियां करने आएं तो उन्हें आपसे जुड़े जमीनी मुद्दे भी याद रहें।

विशेष प्रोत्साहन की व्यवस्था
‘सत्ता का संग्राम’ से जुड़े कार्यक्रमों में जमीनी स्तर पर हिस्सा लेने वाले दर्शकों और श्रोताओं के लिए विशेष प्रोत्साहन की भी व्यवस्था की गई है।

इस विशेष कवरेज को आप कहां देख सकेंगे?



Source link

Continue Reading

Bluandshahr

Bulandshahr News – शिक्षक पात्रता परीक्षा आज, बिना मास्क नहीं मिलेगा प्रवेश

Published

on

By


जीआईसी में टीईटी की परीक्षा के लिए चिट लगाते कर्मचारी।
– फोटो : BULANDSHAHR

ख़बर सुनें

शिक्षक पात्रता परीक्षा आज, बिना मास्क नहीं मिलेगा प्रवेश
बुलंदशहर। रविवार को होने वाली उत्तर प्रदेश शिक्षकपात्रता परीक्षा करवाने के लिए प्रशासन की ओर से सभी तैयारियां पूरी कर ली गई हैं। 23 परीक्षा केंद्रों पर एक-एक स्टेटिक मजिस्ट्रेट और पर्यवेक्षक तैनात रहेंगे। इनकी ही निगरानी में प्रश्न पत्रों के शील्ड पैकेट खुलवाएं जाएंगे और उन्हें वितरित किया जाएगा।
पहली पाली में प्राथमिक स्तर की परीक्षा सुबह 10 से दोपहर 12.30 बजे तक आयोजित होगी। दूसरी पाली में उच्च प्राथमिक स्तर की परीक्षा होगी। यह परीक्षा दोपहर बाद 2.30 बजे से शुरू होकर 5.00 बजे तक होगी। परीक्षा को सूचितापूर्ण और शांतिपूर्वक ढंग से कराने के लिए डीएम सीपी सिंह ने दिशा-निर्देश जारी कर दिए हैं। बताया गया कि स्टेटिक मजिस्ट्रेट सुरक्षा बलों के साथ कोषागार के डबल लॉक से प्रश्नपत्रों के शील्ड पैकेट लेकर परीक्षा केंद्र पर जाएंगे। प्रश्नपत्र केंद्र पर परीक्षा शुरू होने से कुछ समय पहले पहुंच जाएंगे। निर्धारित समय पर केंद्र व्यवस्थापक, पर्यवेक्षक और दो कक्ष निरीक्षकों के समक्ष अपनी उपस्थिति में ही प्रश्नपत्र खुलवाएंगे। प्रश्नपत्र के खोले जाने के समय की वीडियो रिकॉर्डिंग कराई जाएगी। इसके अलावा सभी परीक्षा केंद्रों पर पुलिस बल तैनात रहेगा। साथ ही परीक्षा का अन्य प्रशासनिक और विभागीय अधिकारी भ्रमण कर जायजा लेंगे।
परीक्षा में शामिल होंगे 20009 अभ्यर्थी
जिले में 23 परीक्षा केंद्रों पर 20009 अभ्यर्थी परीक्षा में शामिल होंगे। इनमें पहली पाली में होने वाली प्राथमिक स्तर की परीक्षा में 11,416 अभ्यर्थी पंजीकृत हैं, जबकि दूसरी पाली में होने वाली उच्च प्राथमिक स्तर की परीक्षा में 8593 अभ्यर्थी शामिल हैं।
अधिकारी भी नहीं ले जा सकेंगे फोन
परीक्षा को नकल विहीन और शांतिपूर्ण तरीके से संपन्न कराने के लिए शासन ने गाइड लाइन जारी की है। इसके तहत परीक्षा केंद्र पर किसी भी अधिकारी को स्मार्ट फोन ले जाने की इजाजत नहीं होगी। केंद्र व्यवस्थापक, स्टेटिक मजिस्ट्रेट, पर्यवेक्षक साधारण की-पैड वाले मोबाइल ही इस्तेमाल कर सकेंगे। अभ्यर्थियों को भी किसी तरह का इलेक्ट्रानिक उपकरण ले जाने पर रोक रहेगी। परीक्षा केंद्र के आसपास 200 मीटर की परिधि के बीच धारा 144 लागू रहेगी।
लाना होगा प्रशिक्षण प्रमाणपत्र
परीक्षा में शामिल होने वाले अभ्यर्थियों को ऑनलाइन आवेदन में अंकित पहचान पत्र की मूल प्रति और प्रशिक्षण योग्यता के प्रमाण पत्र अथवा किसी भी सेमेस्टर की निर्गत अंक पत्र की मूल प्रति साथ में लानी होगी। यदि मूल प्रति उपलब्ध नहीं हो तो संबंधित प्रशिक्षण संस्था के रजिस्ट्रार व सक्षम अधिकारी की ओर से इंटरनेट से प्राप्त अंकपत्र की प्रमाणित प्रति साथ लानी होगी। यदि अभ्यर्थी के पास वैध प्रवेश पत्र, पहचान पत्र की मूल प्रति और प्रमाणपत्र नहीं होगा तो उसे परीक्षा केंद्र में प्रवेश नहीं मिलेगा। साथ ही सभी अभ्यर्थियों को कोविड-19 की गाइड लाइन का पालन करना होगा।

शिक्षक पात्रता परीक्षा आज, बिना मास्क नहीं मिलेगा प्रवेश

बुलंदशहर। रविवार को होने वाली उत्तर प्रदेश शिक्षकपात्रता परीक्षा करवाने के लिए प्रशासन की ओर से सभी तैयारियां पूरी कर ली गई हैं। 23 परीक्षा केंद्रों पर एक-एक स्टेटिक मजिस्ट्रेट और पर्यवेक्षक तैनात रहेंगे। इनकी ही निगरानी में प्रश्न पत्रों के शील्ड पैकेट खुलवाएं जाएंगे और उन्हें वितरित किया जाएगा।

पहली पाली में प्राथमिक स्तर की परीक्षा सुबह 10 से दोपहर 12.30 बजे तक आयोजित होगी। दूसरी पाली में उच्च प्राथमिक स्तर की परीक्षा होगी। यह परीक्षा दोपहर बाद 2.30 बजे से शुरू होकर 5.00 बजे तक होगी। परीक्षा को सूचितापूर्ण और शांतिपूर्वक ढंग से कराने के लिए डीएम सीपी सिंह ने दिशा-निर्देश जारी कर दिए हैं। बताया गया कि स्टेटिक मजिस्ट्रेट सुरक्षा बलों के साथ कोषागार के डबल लॉक से प्रश्नपत्रों के शील्ड पैकेट लेकर परीक्षा केंद्र पर जाएंगे। प्रश्नपत्र केंद्र पर परीक्षा शुरू होने से कुछ समय पहले पहुंच जाएंगे। निर्धारित समय पर केंद्र व्यवस्थापक, पर्यवेक्षक और दो कक्ष निरीक्षकों के समक्ष अपनी उपस्थिति में ही प्रश्नपत्र खुलवाएंगे। प्रश्नपत्र के खोले जाने के समय की वीडियो रिकॉर्डिंग कराई जाएगी। इसके अलावा सभी परीक्षा केंद्रों पर पुलिस बल तैनात रहेगा। साथ ही परीक्षा का अन्य प्रशासनिक और विभागीय अधिकारी भ्रमण कर जायजा लेंगे।

परीक्षा में शामिल होंगे 20009 अभ्यर्थी

जिले में 23 परीक्षा केंद्रों पर 20009 अभ्यर्थी परीक्षा में शामिल होंगे। इनमें पहली पाली में होने वाली प्राथमिक स्तर की परीक्षा में 11,416 अभ्यर्थी पंजीकृत हैं, जबकि दूसरी पाली में होने वाली उच्च प्राथमिक स्तर की परीक्षा में 8593 अभ्यर्थी शामिल हैं।

अधिकारी भी नहीं ले जा सकेंगे फोन

परीक्षा को नकल विहीन और शांतिपूर्ण तरीके से संपन्न कराने के लिए शासन ने गाइड लाइन जारी की है। इसके तहत परीक्षा केंद्र पर किसी भी अधिकारी को स्मार्ट फोन ले जाने की इजाजत नहीं होगी। केंद्र व्यवस्थापक, स्टेटिक मजिस्ट्रेट, पर्यवेक्षक साधारण की-पैड वाले मोबाइल ही इस्तेमाल कर सकेंगे। अभ्यर्थियों को भी किसी तरह का इलेक्ट्रानिक उपकरण ले जाने पर रोक रहेगी। परीक्षा केंद्र के आसपास 200 मीटर की परिधि के बीच धारा 144 लागू रहेगी।

लाना होगा प्रशिक्षण प्रमाणपत्र

परीक्षा में शामिल होने वाले अभ्यर्थियों को ऑनलाइन आवेदन में अंकित पहचान पत्र की मूल प्रति और प्रशिक्षण योग्यता के प्रमाण पत्र अथवा किसी भी सेमेस्टर की निर्गत अंक पत्र की मूल प्रति साथ में लानी होगी। यदि मूल प्रति उपलब्ध नहीं हो तो संबंधित प्रशिक्षण संस्था के रजिस्ट्रार व सक्षम अधिकारी की ओर से इंटरनेट से प्राप्त अंकपत्र की प्रमाणित प्रति साथ लानी होगी। यदि अभ्यर्थी के पास वैध प्रवेश पत्र, पहचान पत्र की मूल प्रति और प्रमाणपत्र नहीं होगा तो उसे परीक्षा केंद्र में प्रवेश नहीं मिलेगा। साथ ही सभी अभ्यर्थियों को कोविड-19 की गाइड लाइन का पालन करना होगा।



Source link

Continue Reading

Trending